CG मिसल बंदोबस्त रिकार्ड: CG Misal Bandobast Record, कोरबा भूमि ऑनलाइन देंखे

छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के निवासियों के लाभ के लिए हमेशा कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। देश धीरे-धीरे डिजिटलाइजेशन की ओर बढ़ रहा है और इसीलिए हर राज्य ने डिजिटल के जरिए अपनी सेवाएं देने की पहल की है। छत्तीसगढ़ सरकार ने CG मिसल बंदोबस्त रिकार्ड को ऑनलाइन फिर से लॉन्च किया है। इस पोर्टल के माध्यम से, राज्य सरकार ने राज्य के विभिन्न जिलों के मिसल रिकार्ड ऑनलाइन उपलब्ध कराए हैं। छत्तीसगढ़ में इच्छुक लाभार्थी अब आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से अपने मिसल बंदोबस्त रिकार्ड को ऑनलाइन देख सकेंगे। उन्हें अब रिकॉर्ड की तलाश में सरकारी दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।

CG Misal Bandobast Record

छत्तीसगढ़ के निवासियों को CG Misal Bandobast Record की जांच के लिए पटवारी का चक्कर लगाना पड़ा। लेकिन उन्हें इस पोर्टल के जरिए ऐसी किसी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको छत्तीसगढ़ मिसल बंदोबस्त रिकार्ड योजना से संबंधित सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि योजना का उद्देश्य, सुविधाएं, आवश्यक दस्तावेज, पात्रता मानदंड, और मिसल बंदोबस्त रिकार्ड पंजीकरण प्रक्रिया। पूरी जानकारी जानने के लिए पोस्ट को पूरा पढ़ें।

संक्षिप्त योजना विवरण

योजना का नामछत्तीसगढ़ मिसल बंदोबस्त रिकार्ड
लाभार्थीराज्य के नागरिक इस योजना का लाभ उठा सकेंगे।
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन

CG Misal Bandobast Record About

छत्तीसगढ़ मिसल बंदोबस्त रिकार्ड 1929-30, 1938-39, 1942-43 में बनाया गया एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है। राज्य के इस महत्वपूर्ण दस्तावेज में किसानों के नाम और उनकी मूल जाति के नाम का उल्लेख होगा। इस मिसल रिकॉर्ड को P1 भी कहा जाता है। अब छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के सभी जिलों में मिसल फॉर्म ऑनलाइन उपलब्ध करा दिया है। जिस तरह देश के सभी राज्य धीरे-धीरे अपनी सुविधाएं ऑनलाइन उपलब्ध करा रहे हैं, उसी तरह छत्तीसगढ़ भी डिजिटलाइजेशन की ओर बढ़ रहा है। दुर्ग, धमतरी, कोबरा, रायगढ़, रायपुर, बिलासपुर आदि सभी जिलों के निवासी अपने घरों से मिसल बंदोबस्त रिकार्ड ऑनलाइन देख सकेंगे। राज्य के सभी इच्छुक लाभार्थी मिसल बंदोबस्त रिकार्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इस रिकॉर्ड की जांच कर सकते हैं।

मिसल बंदोबस्त रिकार्ड महत्वपूर्ण दस्तावेज हैं जिनकी अब विभिन्न स्थानों पर आवश्यकता होती है। छत्तीसगढ़ के सभी नागरिक राज्य सरकार द्वारा शुरू किए गए इस ऑनलाइन पोर्टल का लाभ उठा सकेंगे। हम आपको Misal Bandobast Record कैसे और कहां चेक कर सकते हैं, इसकी पूरी जानकारी देने जा रहे हैं, इसलिए पूरा पेज पढ़ें। छत्तीसगढ़ में सभी नवीनतम योजनाओं और सूचनाओं के साथ अद्यतित रहने के लिए इस वेबसाइट को बुकमार्क करें।

इसे भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ बेरोजगारी भत्ता

CG Misal Bandobast Record Portal Highlights Key
योजना का नामछत्तीसगढ़ मिसल बंदोबस्त रिकार्ड
स्कीम के तहतछत्तीसगढ़ सरकार
राज्यछत्तीसगढ़
पोस्ट श्रेणीयोजना
लाभार्थीराज्य के नागरिक इस योजना का लाभ उठा सकेंगे।
उद्देश्यइस योजना का उद्देश्य मिसल बंदोबस्त रिकार्ड को ऑनलाइन उपलब्ध कराना है।
आवेदन प्रक्रियाOnline
साल2022
आधिकारिक वेबसाइटhttp://cg.nic.in

छत्तीसगढ़ मिसल बंदोबस्त रिकार्ड का उद्देश्य

जिस उद्देश्य से राज्य सरकार ने यह योजना शुरू की है वह है –

राजस्थान सरकार ने राज्य के नागरिकों के लाभ के लिए मिसल बंदोबस्त रिकार्ड को ऑनलाइन उपलब्ध कराया है। पहले तो निवासियों को मिसल रिकॉर्ड की जांच के लिए पटवारी के चक्कर लगाने पड़ते थे। और इस समस्या को दूर करने के लिए राज्य सरकार ने मिसल बंदोबस्त रिकार्ड पोर्टल लॉन्च किया है। अब लोगों को पटवारी के आसपास भटकना नहीं पड़ेगा, और उन्हें लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा, इसलिए उनका समय बर्बाद नहीं होता है। लाभार्थी अब घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से इन रिकॉर्ड्स की ऑनलाइन जांच कर सकेंगे।

छत्तीसगढ़ के निवासी कहीं से भी इस पोर्टल का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना का संचालन छत्तीसगढ़ के संबंधित अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है। Misal Bandobast Record एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है जिसे अब आप आसानी से ऑनलाइन एक्सेस कर सकते हैं। इससे नागरिकों का समय बचेगा और व्यवस्था में पारदर्शिता आएगी। इन सभी चरणों के माध्यम से छत्तीसगढ़ राज्य धीरे-धीरे डिजिटलीकरण की ओर बढ़ रहा है।

इसे भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ धनलक्ष्मी योजना ऑनलाइन आवेदन

छत्तीसगढ़ मिसल बंदोबस्त रिकार्ड पोर्टल मुख्य सूचना

  • राज्य के सभी जिलों के नागरिक इस मिसल बंदोबस्त रिकार्ड योजना का लाभ उठा सकेंगे।
  • छत्तीसगढ़ सरकार ने अब मिसल बंदोबस्त रिकार्ड की जांच की प्रक्रिया को पूरी तरह से डिजिटल कर दिया है। इसलिए आप इस रिकॉर्ड को अपने घर या कहीं से भी ऑनलाइन चेक कर सकते हैं।
  • मिसल बंदोबस्त रिकार्ड योजना को P1 रिकॉर्ड कहा जाता है।
  • छत्तीसगढ़ वासियों के लिए मिसल बंदोबस्त रिकार्ड एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है जिसकी अलग-अलग जगहों पर जरूरत होती है।
  • इस रिकॉर्ड में किसानों के नाम और उनकी मूल किस्में शामिल हैं।
  • छत्तीसगढ़ के सभी जिलों जैसे दुर्ग, रायपुर, बिलासपुर, रायगर आदि के नागरिक इस योजना का लाभ उठा सकेंगे।

Misal Bandobast Record के लाभ

हम आपको इस योजना के माध्यम से लाभार्थियों को मिलने वाले लाभों के बारे में कुछ जानकारी देंगे –

  • छत्तीसगढ़ सरकार ने मिसल बंदोबस्त रिकार्ड पोर्टल लॉन्च किया है।
  • पहले राज्य के निवासियों को मिसल बंदोबस्त रिकार्ड की जांच के लिए पटवारी के चक्कर लगाने पड़ते थे, लेकिन अब नागरिकों को लंबा इंतजार नहीं करना पड़ता है और वे इन रिकॉर्ड्स को ऑनलाइन चेक कर सकते हैं।
  • इच्छुक लाभार्थी इंटरनेट के माध्यम से आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इस रिकॉर्ड को आसानी से देख सकते हैं।
  • छत्तीसगढ़ के नागरिक इस रिकॉर्ड को घर पर या कहीं से भी आधिकारिक वेबसाइट पर देख सकते हैं।
  • छत्तीसगढ़ मिसल बंदोबस्त रिकार्ड 1929-30, 1938-39, 1942-43 में बनाया गया एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है। राज्य के इस महत्वपूर्ण दस्तावेज में किसानों के नाम और उनके मूल का उल्लेख होगा।
  • छत्तीसगढ़ के सभी जिलों के नागरिक Misal Bandobast Records Chhattisgarh की ऑनलाइन जांच कर सकेंगे।

मिसल बंदोबस्त रिकार्ड पात्रता मानदंड

इस योजना के तहत सरकार द्वारा जारी पात्रता मानदंड हैं –

  • आवेदक को छत्तीसगढ़ का निवासी होना चाहिए।

छत्तीसगढ़ मिसल बंदोबस्त रिकार्ड ऑनलाइन चेक

छत्तीसगढ़ के रायगड़ जिले में राज्य के सभी नागरिक नीचे दी गई प्रक्रिया के माध्यम से मिसल बंदोबस्त रिकार्ड की जांच कर सकेंगे। नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन करें –

  • सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट में प्रवेश करना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट में प्रवेश करने के बाद आपको होमपेज पर एक फॉर्म दिखाई देगा।
  • आपको उस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारियां सही-सही भरनी होंगी। जैसे जिला, तहसील, ग्राम, राजस्व संख्या, अभिलेख आदि।
CG Misal Bandobast Record Apply
  • सभी जानकारियां सही-सही भरने के बाद आपको सर्च ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • फिर जब भी आपको चयनित डेटा मिलेगा तो आपके सामने बीपीएल नंबर के तहत शामिल गांवों को मिसल बंदोबस्त रिकार्ड की जानकारी के अनुसार खोल दिया जाएगा।
  • फिर आपको उस पेज पर अपना नाम सर्च करना है और अपना नाम प्राप्त करने के बाद आपको सिलेक्शन ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • जब भी आप सिलहट ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने मिसल बंदोबस्त रिकार्ड खुल जाएगा। मिसल बंदोबस्त रिकार्ड को भविष्य में उपयोग के लिए डाउनलोड या प्रिंट किया जा सकता है।

मिसल बंदोबस्त रिकार्ड प्रिंट करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट में प्रवेश करना होगा। और आपको पहले बताई गई प्रक्रियाओं का पालन करना होगा।
  • फिर अगर आप उस रिकॉर्डिंग को प्रिंट करना चाहते हैं तो आपको प्रिंट ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • प्रिंट ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद cg.nic.in आपसे पूछेगा कि क्या आप वाकई प्रिंट करना चाहते हैं। आपको बस ओके ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • फिर आप उस दस्तावेज़ को प्रिंट कर सकते हैं।

सीजी मिसल बंदोबस्त रिकार्ड कोरबा लैंड ऑनलाइन प्रक्रिया

इच्छुक लाभार्थी इस प्लेटफॉर्म के तहत कोरबा भूमि की जांच के लिए नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन करें –

  • सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट में प्रवेश करना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट में प्रवेश करने के बाद आपको होमपेज पर सभी आवश्यक प्रश्नों को भरना होगा। जैसे जिला, अभिलेख, तहसील आदि।
  • सभी जानकारियां सही-सही भरने के बाद आपको सर्च ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • जब भी आपको चयनित डेटा मिल जाएगा तो आपके सामने बीपीएल नंबर के तहत शामिल सभी गांवों का पूरा मिसल बंदोबस्त रिकार्ड खुल जाएगा।
  • फिर आपको वहां अपना नाम सर्च करना है और फिर आपको सिलेक्शन ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • चयन कार्यालय का चयन करने के बाद, मिसल बंदोबस्त रिकार्ड आपके कंप्यूटर डिवाइस पर प्रदर्शित होगा।
  • आप भविष्य में उपयोग के लिए छत्तीसगढ़ मिसल बंदोबस्त रिकार्ड को डाउनलोड या प्रिंट कर सकते हैं।
  • यदि आप इस रिकॉर्ड को प्रिंट करना चाहते हैं, तो मुझे प्रिंट विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद cg.nic.in आपसे पूछेगा कि क्या आप वाकई प्रिंट करना चाहते हैं। इसके बाद आपको OK ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • फिर आप प्रिंट कर सकते हैं।

निष्कर्ष

हमने इस प्रश्न के माध्यम से आपको CG मिसल बंदोबस्त रिकार्ड के बारे में लगभग सभी जानकारी प्रदान की है। और हम आशा करते हैं कि आपको इस जानकारी के माध्यम से अपने सभी सवालों के जवाब मिल गए होंगे। यदि आपके पास अभी भी कोई प्रश्न है तो आप हमारे कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछ सकते हैं, हम आपके प्रश्न का उत्तर जल्द ही ई-मेल और कमेंट बॉक्स में देंगे।

इसे भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना 2022: ऑनलाइन फॉर्म, आवेदन प्रक्रिया

Misal Bandobast Record FAQ

मिसल बंदोबस्त रिकार्ड क्या है?

छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के नागरिकों के लाभ के लिए मिसल बंदोबस्त रिकार्ड को ऑनलाइन उपलब्ध कराया है। मिसल बंदोबस्त रिकार्ड एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है। इस दस्तावेज़ में किसान का नाम और उसकी मूल जाति के नाम का उल्लेख किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ मिसल बंदोबस्त रिकार्ड पोर्टल का उद्देश्य क्या है?

राज्य के निवासियों को पहले मिसल बंदोबस्त रिकार्ड की जांच के लिए पटवारी का दौरा करना पड़ता था। और उन्हें लंबी भीड़ और बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ा। इन सबको ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने मिसल बंदोबस्त रिकार्ड को ऑनलाइन उपलब्ध कराया है।

सीजी मिसल बंदोबस्त रिकार्ड की आधिकारिक वेबसाइट कौन सी है?

इस पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट cg.nic.in है।

Rate this post

Leave a Comment

error: Content is protected !!